fbpx
ATMS College of Education
Hapur

चाचा की हत्या करने वाले भाइयों को पुलिस ने दबोचा

सिंभावली पुलिस की गिरफ्त में मोहित के हत्यारोपी।
– फोटो : GARH

ख़बर सुनें

चाचा की हत्या करने वाले भाइयों को पुलिस ने दबोचा
गढ़मुक्तेश्वर। गांव दत्तियाना में पारिवारिक विवाद में घर में घुसकर दो भाइयों ने अपने दो साथियों के साथ मिलकर चाचा को गोली मारकर मौत के घाट उतार दिया। मृतक के भाई की तहरीर पर पुलिस ने चारों आरोपियों के खिलाफ रिपोर्ट दर्ज कर ली तथा दोनों भाइयों को गिरफ्तार कर लिया। तनाव को देखते हुए गांव में पुलिस व पीएसी तैनात की गई है।
सिंभावली क्षेत्र के गांव दत्तियाना में मंगलवार की रात पारिवारिक विवाद के चलते गांव के ही रहने वाले शुभम और अभिषेक अपने एक साथी प्रशांत और ममेरे भाई शुभम नागर निवासी गांव छुछई जनपद मेरठ को साथ लेकर अपने चाचा मोहित (27 वर्ष)के घर पहुंच गए। जिन्होंने दरवाजा खोलते ही मोहित के साथ मारपीट शुरू कर दी। बीच बचाव कराने पर आरोपियों ने मोहित के भाई रोहित के साथ भी मारपीट की। इसी बीच शुभम ने तमंचे से मोहित के सीने में गोली मार दी और धमकी देते हुए भाग निकले। जिसके बाद परिजनों ने दोनों घायलों को हापुड़ के अस्पताल में भर्ती कराया, जहां चिकित्सकों ने मोहित को मृत घोषित कर दिया। युवक की मौत से परिजनों में कोहराम मच गया। वहीं सूचना के बाद मौके पर पहुंची पुलिस ने जांच पड़ताल की। वहीं एसपी नीरज कुमार जादौन, एएसपी सर्वेश कुमार मिश्रा और सीओ पवन कुमार भी गांव में पहुंच गए। घटना के संबंध में रोहित ने चारों आरोपियों को नामजद करते हुए तहरीर दी है। रात में ही पुलिस ने शव का पंचनामा भरकर पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया था।
गलतफहमी बनी हत्या का कारण
तहरीर देते हुए रोहित ने बताया कि कुछ दिन पहले भाभी और मां के बीच कुछ कहासुनी हो गई। जिसमें भाभी ने उसपर छेड़छाड़ का आरोप लगा दिया। मामला शांत करने के लिए उसने भाभी से माफी मांग ली। लेकिन मंगलवार की रात आरोपियों ने घर में घुसकर हमला करते हुए उसके भाई की हत्या कर दी।
गांव में पुलिस व पीएसी तैनात
सिंभावली एसओ राहुल चौधरी ने बताया कि तहरीर के आधार पर चारों आरोपियों के खिलाफ संबंधित धाराओं में रिपोर्ट दर्ज कर आरोपियों की तलाश शुरू कर दी गई थी। उन्होंने बताया कि बुधवार की सुबह दत्तियाना के जंगल से दोनों मुख्य आरोपी अभिषेक और शुभम को गिरफ्तार कर लिया गया है। जिन्हें न्यायालय में पेश किया गया है। प्रशांत और शुभम नागर की तलाश की जा रही है। वहीं गांव में तनाव को देखते हुए पुलिस और पीएसी की तैनाती की गई है।
गमगीन माहौल में हुआ मृतक का अंतिम संस्कार
पोस्टमार्टम के बाद बुधवार की दोपहर बाद मृतक मोहित का शव गांव में पहुंचा। मृतक के शव को देखकर परिजनों में कोहराम मच गया। देर शाम गांव के ही श्मशान घाट में मृतक का अंतिम संस्कार कर दिया गया। संवाद

चाचा की हत्या करने वाले भाइयों को पुलिस ने दबोचा

गढ़मुक्तेश्वर। गांव दत्तियाना में पारिवारिक विवाद में घर में घुसकर दो भाइयों ने अपने दो साथियों के साथ मिलकर चाचा को गोली मारकर मौत के घाट उतार दिया। मृतक के भाई की तहरीर पर पुलिस ने चारों आरोपियों के खिलाफ रिपोर्ट दर्ज कर ली तथा दोनों भाइयों को गिरफ्तार कर लिया। तनाव को देखते हुए गांव में पुलिस व पीएसी तैनात की गई है।

सिंभावली क्षेत्र के गांव दत्तियाना में मंगलवार की रात पारिवारिक विवाद के चलते गांव के ही रहने वाले शुभम और अभिषेक अपने एक साथी प्रशांत और ममेरे भाई शुभम नागर निवासी गांव छुछई जनपद मेरठ को साथ लेकर अपने चाचा मोहित (27 वर्ष)के घर पहुंच गए। जिन्होंने दरवाजा खोलते ही मोहित के साथ मारपीट शुरू कर दी। बीच बचाव कराने पर आरोपियों ने मोहित के भाई रोहित के साथ भी मारपीट की। इसी बीच शुभम ने तमंचे से मोहित के सीने में गोली मार दी और धमकी देते हुए भाग निकले। जिसके बाद परिजनों ने दोनों घायलों को हापुड़ के अस्पताल में भर्ती कराया, जहां चिकित्सकों ने मोहित को मृत घोषित कर दिया। युवक की मौत से परिजनों में कोहराम मच गया। वहीं सूचना के बाद मौके पर पहुंची पुलिस ने जांच पड़ताल की। वहीं एसपी नीरज कुमार जादौन, एएसपी सर्वेश कुमार मिश्रा और सीओ पवन कुमार भी गांव में पहुंच गए। घटना के संबंध में रोहित ने चारों आरोपियों को नामजद करते हुए तहरीर दी है। रात में ही पुलिस ने शव का पंचनामा भरकर पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया था।

गलतफहमी बनी हत्या का कारण

तहरीर देते हुए रोहित ने बताया कि कुछ दिन पहले भाभी और मां के बीच कुछ कहासुनी हो गई। जिसमें भाभी ने उसपर छेड़छाड़ का आरोप लगा दिया। मामला शांत करने के लिए उसने भाभी से माफी मांग ली। लेकिन मंगलवार की रात आरोपियों ने घर में घुसकर हमला करते हुए उसके भाई की हत्या कर दी।

गांव में पुलिस व पीएसी तैनात

सिंभावली एसओ राहुल चौधरी ने बताया कि तहरीर के आधार पर चारों आरोपियों के खिलाफ संबंधित धाराओं में रिपोर्ट दर्ज कर आरोपियों की तलाश शुरू कर दी गई थी। उन्होंने बताया कि बुधवार की सुबह दत्तियाना के जंगल से दोनों मुख्य आरोपी अभिषेक और शुभम को गिरफ्तार कर लिया गया है। जिन्हें न्यायालय में पेश किया गया है। प्रशांत और शुभम नागर की तलाश की जा रही है। वहीं गांव में तनाव को देखते हुए पुलिस और पीएसी की तैनाती की गई है।

गमगीन माहौल में हुआ मृतक का अंतिम संस्कार

पोस्टमार्टम के बाद बुधवार की दोपहर बाद मृतक मोहित का शव गांव में पहुंचा। मृतक के शव को देखकर परिजनों में कोहराम मच गया। देर शाम गांव के ही श्मशान घाट में मृतक का अंतिम संस्कार कर दिया गया। संवाद

Source link

Menmoms Sajal Telecom JMS Group of Institutions
Show More

4 Comments

  1. Pingback: dewahk
  2. Pingback: site
  3. Pingback: Dan Helmer

Leave a Reply

Back to top button

You cannot copy content of this page