fbpx
ATMS College of Education
Health

क्‍या आहार में से रोटी हटा देना है वजन घटाने का आसान और सुरक्षित तरीका? आइए जानते हैं

गेहूं, बेसन या मैदे से बनी रोटी भारतीय खाने का अभिन्न हिस्सा है। लगभग हर घर में ये हर रोज़ बनती है। ये आमतौर पर गेहूं के आटे को पानी के साथ गूंद कर बनाई जाती है। रोटी में विटामिन और खनिज जैसे विटामिन-B और E, कॉपर, कैल्शियम, आयोडीन, मैंगनीज, सिलिकॉन और पोटेशियम भी महत्वपूर्ण मात्रा में होते हैं। ये सभी आपके शरीर के लिए आवश्यक हैं। इन सबके बावजूद… क्‍या वज़न घटाने के लिए रोटी छोड़ना एक सही विकल्प है? आइये जानते हैं।

रोटी नहीं खाने से क्या होता है?

अपने आहार में कार्बोहाइड्रेट में कटौती करने से कुछ लोगों को वजन घटाने में आसानी होती है। हमारे भारतीय आहार में, प्रमुख कार्ब चावल और रोटी हैं। इसलिए, लोग इन्हें छोड़ने के बारे में विचार करने लगते हैं।

पर यह आपकी सेहत के लिए फायदेमंद से ज्‍यादा नुकसानदेह हो सकता है। जब कोई गेहूं का सेवन छोड़ देता है या कम करता है, तो शरीर को बाहरी खाद्य स्रोत से पर्याप्त मात्रा में ऊर्जा नहीं मिल पाती। इस प्रकार, यह आमतौर पर अपनी प्रोटीन पर हमला करता है और ऊर्जा प्राप्त करने के लिए उन्हें तोड़ देता है। जिसकी वजह से वेट लॉस होता है न कि फैट लॉस। इसके साथ ही शरीर में ऊर्जा कम होने लगती है और आप थकान महसूस कर सकती हैं।
 

weight loss

आपको जानकर आश्चर्य होगा कि रोटी खाने से वज़न कम हो सकता है। जी हां… आइये जानते हैं कैसे:

रोटी में कम संख्या में कैलोरी (केवल लगभग 70 कैलोरी) होती है, जो उन्हें विशेष रूप से वजन कम करने की कोशिश करने वालों के लिए बेहतर विकल्प बनाती है। चूंकि भारतीय ब्रेड फाइबर, प्रोटीन और अन्य आवश्यक पोषक तत्वों में उच्च है, यह आपको लंबे समय तक तृप्त रख सकती है और आपके समग्र कैलोरी सेवन को कम कर सकता है। इसलिए रोटी वजन घटाने के लिए एक उत्कृष्ट विकल्प है।

लेकिन इसका मतलब यह नहीं है की आप अपने आहार में रोटी की मात्रा बढ़ा लें। ऐसा करना गलत हो सकता है, क्योंकि आखिर है तो ये कार्बोहायड्रेट ही न? इसलिए एक दिन में 4 से ज्यादा रोटी न खाएं।

अब जानिए रोटी खाने के फायदे

आप एनर्जेटिक महसूस करती हैं

रोटी ऊर्जा का एक अच्छा स्रोत है, क्योंकि यह अच्छे कार्ब्स और वसा से भरपूर है। इसलिए पूरे गेहूं की चपाती खाने से लंबे समय तक निरंतर ऊर्जा का स्तर बना रहता है।

running for weight loss

 

बना रहता है हीमोग्लोबिन का स्‍तर

रोटी हीमोग्लोबिन के स्तर को बनाए रखने में मदद कर सकती है क्योंकि इसमें आयरन होता है। अपने दैनिक भोजन में रोटी को शामिल करना हीमोग्लोबिन के स्तर को बनाए रखने का एक स्वस्थ तरीका हो सकता है।

पाचन तंत्र को रखती है दुरुस्‍त

इसमें हाई फाइबर होता है जो आपके पाचन तंत्र के लिए एक बेहतरीन भोजन है। फाइबर में उच्च आहार कब्ज और अन्य पाचन परेशानियों को कम करने में मदद कर सकता है। अगर आपको अपच की समस्या नहीं है, तब भी आपके शरीर को स्वस्थ रहने के लिए फाइबर की आवश्यकता होती है।

 

यह भी पढ़ें : आपकी वेट लॉस जर्नी में बाधा बन सकती हैं ये 5 वर्कआउट हैबिट्स, जानिए कैसे

 

Source link

Menmoms Sajal Telecom JMS Group of Institutions
Show More

Leave a Reply

Back to top button

You cannot copy content of this page