fbpx
ATMS College of Education
Hapur

ओटीएस की वेबसाइट न खुलने पर भड़के किसान

बिल जमा करने के लिए साइट खुलने का इंतजार करते ग्रामीण।
– फोटो : HAPUR

ख़बर सुनें

ओटीएस की वेबसाइट न खुलने पर भड़के किसान
हापुड़। विद्युत निगम द्वारा शुरू की गई एक मुश्त समाधान योजना का लाभ किसानों को नहीं मिल रहा है। योजना की वेबसाइट में आए दिन गड़बड़ी रहने के चलते किसानों के बिल जमा नहीं हो पा रहे हैं। शनिवार को भी निगम कार्यालय में बने काउंटर पर किसानों की भीड़ लगी रही लेकिन वेबसाइट के न चलने से न तो बिल जमा हुआ और न ही रजिस्ट्रेशन हो पाया। जिसके कारण किसानों ने इस अव्यवस्था को लेकर काफी हंगामा किया। हालांकि अधिकारियों के आश्वासन के बाद किसान शांत हुए।
बिजली के बकाया बिलों पर काफी सरचार्ज लगा हुआ है। इसकी माफी के लिए शासन ने एकमुश्त समाधान योजना चलाई हुई है। 15 मार्च तक योजना में कुल बिल का 30 फीसदी धनराशि देकर रजिस्ट्रेशन कराया जा सकता है। टाउन हॉल बिजलीघर में इस योजना के तहत बिल जमा कराने के लिए दो काउंटर बनाए गए हैं। इन दिनों बकायेदारों की भीड़ बिल जमा कराने के लिए इन काउंटरों पर लगी रहती है। लेकिन ओटीएस की वेबसाइट में गड़बड़ी के चलते बिल समय पर जमा नहीं हो पा रहे हैं।
हर दिन की भांति शनिवार को भी वेबसाइट धोखा दे गई। घंटों तक किसान काउंटरों की खिड़की पर साइट चलने का इंतजार करते रहे। लेकिन राहत नहीं मिल सकी, इसके विरोध में किसानों ने हंगामा भी किया। बता दें कि योजना में रजिस्ट्रेशन के लिए सिर्फ दो दिन ही शेष बचे हैं, ऐसे में बड़ी संख्या में किसान बिजली निगम के कार्यालयों में पहुंच रहे हैं। इस तरह साइट के बंद रहने से जहां राजस्व पर प्रभाव पड़ रहा है, वहीं योजना भी सफल नहीं हो पा रही है। इस मामले में अधिकारियों ने उच्चाधिकारियों को पत्र लिखने की बात कही है।
अधिशासी अभियंता मनोज कुमार ने बताया कि ऊपर से ही साइट में दिक्कत आ रही है। इस संबंध में उच्चाधिकारियों को अवगत कराया जा चुका है। किसानों को परेशान नहीं होने दिया जाएगा।

ओटीएस की वेबसाइट न खुलने पर भड़के किसान

हापुड़। विद्युत निगम द्वारा शुरू की गई एक मुश्त समाधान योजना का लाभ किसानों को नहीं मिल रहा है। योजना की वेबसाइट में आए दिन गड़बड़ी रहने के चलते किसानों के बिल जमा नहीं हो पा रहे हैं। शनिवार को भी निगम कार्यालय में बने काउंटर पर किसानों की भीड़ लगी रही लेकिन वेबसाइट के न चलने से न तो बिल जमा हुआ और न ही रजिस्ट्रेशन हो पाया। जिसके कारण किसानों ने इस अव्यवस्था को लेकर काफी हंगामा किया। हालांकि अधिकारियों के आश्वासन के बाद किसान शांत हुए।

बिजली के बकाया बिलों पर काफी सरचार्ज लगा हुआ है। इसकी माफी के लिए शासन ने एकमुश्त समाधान योजना चलाई हुई है। 15 मार्च तक योजना में कुल बिल का 30 फीसदी धनराशि देकर रजिस्ट्रेशन कराया जा सकता है। टाउन हॉल बिजलीघर में इस योजना के तहत बिल जमा कराने के लिए दो काउंटर बनाए गए हैं। इन दिनों बकायेदारों की भीड़ बिल जमा कराने के लिए इन काउंटरों पर लगी रहती है। लेकिन ओटीएस की वेबसाइट में गड़बड़ी के चलते बिल समय पर जमा नहीं हो पा रहे हैं।

हर दिन की भांति शनिवार को भी वेबसाइट धोखा दे गई। घंटों तक किसान काउंटरों की खिड़की पर साइट चलने का इंतजार करते रहे। लेकिन राहत नहीं मिल सकी, इसके विरोध में किसानों ने हंगामा भी किया। बता दें कि योजना में रजिस्ट्रेशन के लिए सिर्फ दो दिन ही शेष बचे हैं, ऐसे में बड़ी संख्या में किसान बिजली निगम के कार्यालयों में पहुंच रहे हैं। इस तरह साइट के बंद रहने से जहां राजस्व पर प्रभाव पड़ रहा है, वहीं योजना भी सफल नहीं हो पा रही है। इस मामले में अधिकारियों ने उच्चाधिकारियों को पत्र लिखने की बात कही है।

अधिशासी अभियंता मनोज कुमार ने बताया कि ऊपर से ही साइट में दिक्कत आ रही है। इस संबंध में उच्चाधिकारियों को अवगत कराया जा चुका है। किसानों को परेशान नहीं होने दिया जाएगा।

Source link

Menmoms Sajal Telecom JMS Group of Institutions
Show More

Leave a Reply

Back to top button

You cannot copy content of this page