fbpx
News

गांवों की विकास कार्यों की कटौती के विरोध में प्रधानों ने किया कलेक्ट्रेट में धरना-प्रदर्शन ,दिया ज्ञॉपन

हापुड़। जनपद के ग्राम पंचायतों को मिलने वाली विकास राशि में 70 प्रतिशत की कटौती समेत अन्य मांगों को लेकर प्रधानों ने कलेक्ट्रेट में धरना प्रदर्शन किया। समाधान को लेकर प्रशासन को ज्ञॉपन दिया।जानकारी के अनुसार सोमवार को जनपद के विभिन्न ग्रामों के ग्राम प्रधान एकत्र होकर ग्राम पंचायतों को मिलने वाली विकास राशि में 70 प्रतिशत की कटौती समेत अन्य मांगों को लेकर जिला मुख्यालय पर सैकड़ों ग्राम प्रधानों ने धरना देकर जोरदार प्रदर्शन किया।

वक्ताओं ने कहा कि ग्राम पंचायतों को मिलने वाली विकास राशि में 70 प्रतिशत की कटौती होने से ग्रामीण क्षेत्रों का विकास कार्य रूक गया है। कटौती की गई राशि को वापस ग्राम पंचायतों को दिलाया जाए।

सार्वजनिक शौचालय के केयरटेकर व पंचायत सहायक के मानदेय को पंचायत विकास निधि से ना काटकर अलग से भुगतान कराया जाए। यदि किसी ग्राम में सड़क व नाली सही न हो तो उनपर प्राथमिकता हो न की ओपर जिन, अमृत सरोवर जैसी योजनाओं को प्राथमकिता दी जाए। ग्राम तालाबों के ठेके छोड़ने का अधिकार ग्राम पंचायतों को दिलाया जाए। गोवंश व गोशाला सुरक्षा के लिए अलग से धनराशि ग्राम पंचायतों को दिलाई जाए। बिना उच्च स्तरीय जांच के ग्राम प्रधानों के अधिकारों पर रोक न लगाई जाए।
गोवंश व गोशाला सुरक्षा के लिए अलग से धनराशि ग्राम पंचायतों को दिलाई जाए। बिना उच्च स्तरीय जांच के ग्राम प्रधानों के अधिकारों पर रोक न लगाई जाए। यदि किसी कार्य के भुगतान में कोई कमी पाई जाती है तो संबोधित अवर अभियंता से जवाब तलब किया जाए। प्रत्येक ग्राम प्रधान टेक्निकल जानकार नहीं होता है।इस मौकें पर नेहा गुर्जर, सुशीला, जगत, शौकीन, बाबू खां, सरोज देवी, पिंकी, पुष्पा, इकबाल, दानिश अली, नीतू पाल दिनेश कुमार, मनोज प्रधान, हरविंदर सिंह बंटी रामपाल सिंह, जयभगवान शर्मा आदि मौजूद थे।

Show More

One Comment

  1. Pingback: dk7.com

Leave a Reply

Back to top button

You cannot copy content of this page